Shakuntala Devi Review Vidya Balan Marvelous Acting

21
Shakuntala Devi Review: 'विद्या कसम' विद्या बालन की शानदार एक्टिंग है 'शकुंतला देवी'

Shakuntala Devi Review: जानें कैसी है विद्या बालन (Vidya Balan) की फिल्म

खास बातें

  • रिलीज हो चुकी है विद्या बालन की ‘शकुंतला देवी’
  • अमेजन प्राइम पर रिलीज हुई है फिल्म
  • अनु मेनन ने की है डायरेक्ट

नई दिल्ली:

Shakuntala Devi Review: विद्या बालन बॉलीवुड में उन एक्ट्रेसेस में रही हैं, जिन्होंने हमेशा कुछ हटकर करने में यकीन किया है. उनकी भी मानना है कि वह ऐसे रोल करना चाहती हैं जो चुनौतीपूर्ण हों. इस मामले में शुकंतला देवी का उनका किरदार किन्हीं भी मायनो में कम नहीं है. विद्या बालन ने शकुंतला देवी के किरदार को स्क्रीन पर बहुत ही खूबी के साथ जिया है और हर बारीकी को पकड़ने की पूरी कोशिश की है, इस तरह ‘शकुंतला देवी’ एक फिल्म नहीं बल्कि एक कलाकार किस शिद्दत से किरदार को निभाता है, उसकी मिसाल है. 

यह भी पढ़ें

‘शकुंतला देवी (Shakuntala Devi)’ की कहानी शकुंतला की है जो बचपन से मैथ की जीनियस है, लेकिन अपनी शर्तों पर जीती है. चाहे वह उसका बचपन हो, जवानी या फिर बुढ़ापा. उसे आजादी के साथ जीना है. तभी तो यह शकुंतला बचपन में यह कहने से नहीं झिझकती की वह घर की अप्पा है क्योंकि सभी घरों के अप्पा कमाकर लाते हैं, और वह कमाती है तो इस तरह घर की अप्पा तो वही हुई. यह सीन वाकई कमाल है. सारी जिंदगी शकुंतला के साथ यही फलसफा रहता है. ‘शकुंतला देवी (Shakuntala Devi)’ की शकुंतला की कहानी कर्नाटक से शुरू होकर लंदन तक पहुंचती है और दुनिया भी इस ह्यूमन कंप्यूटर का लोहा मानती है. लेकिन जहां हम शकुंतला देवी को थोड़ा ज्यादा देखना चाहते थे, वहीं उनकी बेटी के साथ रिश्ते को कुछ ज्यादा दिखाने की कोशिश की गई है.

अनु मेनन ने शकुंतला की कहानी को पूरी तरह से मां-बेटी के रिश्ते पर फोकस किया है, जिसके बारे में वह बता चुकी हैं कि ‘एक दिन मेरी 9 वर्षीय बेटी ने कहा कि लड़कियों को अंग्रेजी और लड़कों को गणित अच्‍छा लगता है. वह चिढ़ी हुई थी और मैंने सोचा कि इसका हल निकालना चाहिए. शुरूआत वहीं से हुई.’ लेकिन विद्या बालन ने दिखा दिया है कि वह एक बेहतरीन अदाकारा है, और उनके एक्सप्रेशंस, चलने का अंदाज, बोलने का ढंग सबकुछ यह दिखाता है कि वह किस तरह के कैरेक्टर में उतर जाती हैं. लेकिन जो बात चुभती है वह यह कि मां-बेटी के रिश्ते पर फोकस करने की डायरेक्टर को थोड़ी जल्दबाजी नजर आती है, और इसी वजह से शकुंतला देवी की कहानी सरपट दौड़ जाती है और मां-बेटी की कहानी कछुआ चाल से बढ़ती नजर जाती है. विद्या बालन की एक्टिंग को समझने और सराहने के लिए यह फिल्म ‘शकुंतला देवी (Shakuntala Devi)’ मस्ट वॉच है.

रेटिंगः 3.5/5
डायरेक्टरः अनु मेनन
कलाकारः विद्या बालन, सान्या मल्होत्रा, अमित साध और जिशु सेनगुप्ता

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here