People Lay In The Coffin In Japan To Overcome The Fear Of Corona – Corona के डर से ताबूत में लेट रहे हैं जिंदा लोग, जानें क्या है मामला?

19

Scare Squad japan: कोरोना (Corona) का डर निकालने के लिए उन्हें जिंदा ताबूत में लिटा देती हैं और फिर एक शख्स उसके आसपास धारदार हथियार लिए घूमता है। कंपनी का मानना है कि इससे लोगों को कोरोना से डर नहीं लगेगा।

नई दिल्ली। इन दिनों पूरी दुनिया कोरोनावायरस (Coronavirus) का दंश झेल रही। रोजाना हजारों लोग इस वायरस की वजह से अपनी जान गवां रहे हैं। ऐसे में लोगों में डर का माहौल है। लेकिन जापान में लोगों के मन से कोरोना का डर दूर करने के लिए एक अनोखा तरीका अपनाया जा रहा है।

‘Mirzapur 2’: कालीन भैया UP के वो डॉन हैं, जिनसे अपराध भी थर्राता है !

डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक जापान की एक कंपनी लोगों के मन से कोरोना (Corona) का डर निकालने के लिए उन्हें जिंदा ताबूत में लिटा देती हैं और फिर एक शख्स उसके आसपास धारदार हथियार लिए घूमता है। कंपनी का मानना है कि इससे लोगों को कोरोना से डर नहीं लगेगा।

जापान की प्रोडक्शन कंपनी कोवागसेटाई (Japan’s production company Kovagasettai) जिसने इस अनोखे तरीके के शुरूआत की है उनका मानना है कि लोगों के मन से कोरोना का डर भी मिटाना जरुरी है। इसी के लिए उन्होंने स्केयर स्क्वाड शो (Scar squad show) की शुरूआत की है।

‘जाको राखे साइयां, मार सके न कोय’:18वीं मंजिल से गिरा 4 साल का बच्चा, बच गया जिंदा!

कंपनी के कोऑर्डिनेटर केंटा इवाना (Coordinator Kenta Ivana) ने मीडिया से बताया कि स्केयर स्क्वाड शो 15 मिनट का होता है। इस टाइम में लोग अपनी डर निकाल देते हैं और उन्हें थोड़ी राहत मिल जाती है।

वहीं इस शो में जाने वाले 36 साल के कज़ुशिरो हाशिगुची (Kazushiro Hashiguchi) बताते हैं कि स्केयर स्क्वाड शो (Scar squad show) में कोरोना वायरस का डर लोगों के दिमाग हटाने के लिए उन्हें जंजीरों से जकड़ कर लाश की तरह ताबूतों में डाल दिया जाता है।

देश में जल्द खुलेगी गधी के दूध की पहली Dairy, 1 लीटर के लिए देने होगें 7000 रुपये !

इसके बाद ताबूत के अंदर डरावनी कहानी सुनाई जाती है। इस दौरान ताबूत में बैठे बैठे आप अभिनेताओं को अभिनय करते हुए देख सकते हैं, कुछ नकली हाथ आपको कोंच सकते हैं और आप पर पानी की फुहार भी पड़ सकती है। उन्होंने बताया कि इस 15 मिनट शो के लिए उन्हें 800-येन (563 भारतीय रुपए ) चुकाने पड़े थे।

 

 













Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here