181 Family Member Living Together In Mizoram – दुनिया का सबसे बड़ा परिवार, 39 पत्नियां सहित 181 सदस्य रहते एक साथ

आज के जमाने में सामूहिक परिवार में रहना लोग बहुत कम ही पसंद करते है। लोगों का मानना है कि छोटा परिवार सुखी ज्यादा खुशी रहता है। लेकिन आज आपको एक ऐसे परिवार के बारे में बताने जा रहे है जिसमें दस बीस नहीं बल्कि 181 लोग एक साथ रहते है।

आज के जमाने में सामूहिक परिवार में रहना लोग बहुत कम ही पसंद करते है। लोगों का मानना है कि छोटा परिवार सुखी ज्यादा खुशी रहता है। इस महंगाई के जमाने में परिवार के 4 सदस्यों का खर्चा चलाना मुखिया के लिए काफी मुश्किल होता है। लेकिन आज आपको एक ऐसे परिवार के बारे में बताने जा रहे है जिसमें दस बीस नहीं बल्कि 181 लोग एक साथ रहते है। जी हां हम बात कर रहे है मिजोरम के आइजॉल की। जिओना नाम का ये शख्स बीवी और बच्चों सहित 181 लोगों के साथ रह रहा है। मिजोरम के रहने वाले इस चाना परिवार को दुनिया का सबसे बड़ा परिवार कहा जा रहा है।

यह भी पढ़े :— इस शख्स ने किया अनोखा कारनामा, सिंगल कोन में 125 आइसक्रीम भर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

181 family member living together

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस परिवार में 181 सदस्य हैं जो 100 कमरों के एक घर में एक साथ रहते हैं। इस परिवार के मुखिया हैं जिओना चाना जिनकी 39 पत्नियां, 94 बच्चे, 14 बहुयें, 33 पोते-पोतियां और एक परपोता है। जिओना को अपने इस परिवार पर बड़ा गुरूर है। जिओना इस घर में राजा की तरह रहते हैं। वह पेशे से बढ़ाई का काम करता है। घर के ग्राउंड फ्लोर पर बनी बैठक में उन्होंने अपनी कई शानदार तस्वीरें भी लगाई हुई है। वे खाने की मेज पर इस क्रम में बैठते हैं कि सबसे युवा पत्नियों से शुरू करते हुए बुजुर्ग पत्नियां उनसे दूर दूसरे हिस्सों में बैठ पाती हैं। जिओना की सबसे युवा बीवी 33 साल की हैं, जिनसे उनकी शादी 2000 में हुई थी। उनकी पत्नी उन्हें इलाके का सबसे हैंडसम आदमी मानती हैं।

यह भी पढ़े :— इस आइलैंड पर आज भी रहती हैं शैतानी ताकतें और जलपरियां, यहां साल में सिर्फ एक दिन जाने की इजाजत

181 family member living together

इस घर में रोजाना एक बारात का खाना बनता है। इस परिवार का एक दिन का खाना आम घरों के महीने भर के राशन के बराबर होता है। एक रिपोर्ट के अनुसार, उनके यहां एक दिन के खाने में ही करीब 40 किलो चावल, 40 मुर्गियां, 24 किलो दाल, 50 किलो सब्जियां इस्तेमाल हो जाती हैं। इतना ही यदि नाॅनवेज में कोई और डिश जो मटन आदि से बनती हो तो एक टाइम के खाने 10 बड़े बकरे तो लग ही जाते हैं। इतने सदस्यों के खाने के लिए घर के डाइनिंग हॉल में 50 टेबल पड़े हैं।









Source link

Related posts

Leave a Comment