These 5 Places Of The Country Have To Be Banned – देश के इन 5 जगहों पर जाना है प्रतिबंध, लेनी पड़ती है विशेष परमिशन

देश में कई जगह ऐसी है, जहां पर लोगों के जाने पर प्रतिबंध है। स्थानीय नागरिकों को छोड़कर देश के दूसरे कोने या टूरिस्ट्स के लिए यहां आने के लिए विशेष परमिशन यानी इनर लाइन परमिट लेना पड़ता है। ये परमिट तय समय सीमा और कुछ लोगों के लिए ही मान्य होता है।

देश में कई जगह ऐसी है, जहां पर लोगों के जाने पर प्रतिबंध है। स्थानीय नागरिकों को छोड़कर देश के दूसरे कोने या टूरिस्ट्स के लिए यहां आने के लिए विशेष परमिशन यानी इनर लाइन परमिट लेना पड़ता है। (इनर लाइन परमिट भारत का आधिकारिक यात्रा दस्तावेज है। ये परमिट तय समय सीमा और कुछ लोगों के लिए ही मान्य होता है। यह परमिट भारत में इस समय सिर्फ तीन राज्यों – मिजोरम, नागालैंड और अरुणाचल प्रदेश में ही पूर्ण रुप से लागू है।) बताया जाता है कि ये सभी जगह दूसरे देशों की सीमाओं के पास हैं, ऐसे में सुरक्षा कारणों से बगैर आदेश के प्रदेवश नहीं मिलता है। हालांकि, परमिशन लेकर जाने वाले लोग एक तय समय सीमा तक ही इन क्षेत्रों में घूम सकते हैं। इसके बाद टूरिस्ट को उन जगहों को देखने के बाद वापस लौटना पड़ता है। आइए जानते है देश के उन 5 जगहों के बारे में जहां जाने के लिए इनर लाइन परमिट की जरूरत पड़ती है।

 

यह भी पढ़ें :— इन चीजों को देखकर आपको भी नहीं होगा यकीन, हर कोई खा चुका है धोखा

kohima

कोहिमा, नागालैंड
देश के उत्तर-पूर्वी राज्य नागालैंड की राजधानी कोहिमा अंगामी नागा जनजाति की भूमि है। आपको बता दें कि यह एशिया का स्विट्जरलैंड ने नाम से भी मशहूर है। पहाड़ की एक ऊंचे चोटी पर बसा कोहिमा पर जाने के लिए इनर परमिट लाइन की आवश्यकता होती है।

 

यह भी पढ़ें :— इन पवित्र सरोवरों में स्नान करने मिलता है मोक्ष, मिलती है पापों से मुक्ति

loktak_lake

लोकतक लेक, मणिपुर
उत्तर-पूर्व में स्थित लोकतक झील में कई जगह पर भूखंड के टुकड़े तैरते हुए नजर आते है। इसमें पानी भरा हुआ होता है। इन टुकड़ों को फुमदी के नाम से जाना जाता है, जो मिट्टी, पेड़-पौधों और जैविक पदार्थों से मिलकर कठोर संरचना में बने होते हैं। इस झील को देखने के लिए भी इनर लाइन परमिट लेने की आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें :— 12वीं पास युवक ने बनाया बांस का मोबाइल ट्राईपॉड, मिला 50 हजार का अवॉर्ड

Inner line permit

चांगु लेक, सिक्किम
सिक्किम का प्रमुख टूरिस्ट डेस्टिनेशन है चांगु लेक। सर्दियों में इस झील का पूरा पानी बर्फ बन जाता है। इस खूबसूरत जगह को देखने आने के लिए इनर लाइन परमिट लेने की आवश्यकता होती है।

यह भी पढ़ें :— शख्स ने नारियल के दूध से बनाई चाय, वीडियो देख लोगों ने कहा- पत्ती की जगह डाल दे चावल

Inner line permit

जीरो, अरुणाचल प्रदेश
आपको अरुणाचल प्रदेश में जाने के लिए भी इनर लाइन परमिट की जरूर पड़ेगी। इस कारण से यहां भी परमिशन लेकर ही कोई जा सकता है। यहां पर कई शानदार टूरिस्ट अट्रैक्शन हैं, लेकिन इनमें सबसे पॉपुलर जीरो वैली है। इस वैली को वर्ल्ड हेरिटेज साइट्स में शुमार किया जाता है।

यह भी पढ़ें :— ये है दुनिया की सबसे अनोखी पहाड़ी, बताती है गर्भ में लड़का है या लड़की

aizawl_

आइजोल, मिजोरम
मिजोरम की राजधानी आइजोल में भी कई शानदार टूरिस्ट प्लेसेस है। जिनको देखने के लिए दुनियाभर से कई लोग आते हैं। इनमें म्यूजियम, हिल स्टेशन, स्थानीय लोग और उनकी कला शामिल है। हालांकि, मिजोरम में भी इनर लाइन परमिट लागू है।















Source link

Related posts

Leave a Comment