मुंबई: आधी रात को अस्पतालों के चक्कर लगाती रही प्रेग्नेंट महिला, ऑटो में मौत – Mumbai a pregnant woman dies in auto after three hospitals refuses to admit her

  • अस्पतालों के चक्कर लगाते रहे परिजन
  • तीन अस्पताल के खिलाफ पुलिस में शिकायत

लॉकडाउन के दौरान कई सारी ऐसी कहानियां सामने आई जो लोगों के लिए मानवता की एक मिसाल है. वहीं कई ऐसी घटनाएं भी सामने आई हैं जिसने समाज के निर्मम चेहरे को सबके सामने उजागर कर दिया. महाराष्ट्र सबसे अधिक कोरोना प्रभावित क्षेत्र है. वहीं मुंबई के अस्पतालों को लेकर कई रिपोर्ट्स सामने आती रही हैं. पिछले सप्ताह मुंबई में अस्पताल की एक और बड़ी लापरवाही सामने आई है जिसकी वहज से एक प्रेग्नेंट महिला की मौत हो गई. मुंबई के मुंब्रा में 25-26 मई की दरम्यानी रात एक 22 साल की प्रेग्नेंट महिला ने अस्पताल द्वारा भर्ती नहीं किए जाने की वजह से रास्ते में ही दम तोड़ दिया.

मृतक महिला का नाम महक खान है. महक को 25 मई की रात प्रसव पीड़ा हो रही थी. जिसके बाद उसे ऑटो में बैठाकर अस्पताल ले जाया गया. लेकिन अस्पताल ने मरीज को भर्ती करने से इनकार कर दिया. परिजन इसी तरह गर्भवती महिला को ऑटो में बैठाकर दो अन्य अस्पताल भी ले गए. चौथे अस्पताल के लिए जाते हुए ऑटो के अंदर ही उस महिला की मौत हो गई.

परिवारवालों ने बताया कि महक को जैसे ही प्रसव पीड़ा शुरू हुई उसे ऑटो से अस्पताल ले गए. सबसे पहले वो बिलाल अस्पताल पहुंचे लेकिन उन्होंने भर्ती नहीं किया. इसके बाद वे लोग ऑटो में सवार होकर प्राइम क्रिटिकेयर और फिर यूनिवर्सल अस्पताल ले गए. सभी ने महिला को भर्ती करने से इंकार कर दिया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

बीजेपी नेता राम कदम ने इस घटना को लेकर उद्धव सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, ‘यह घटना काफी चैंकाने वाला और दुर्भाग्यपूर्ण है. एक प्रेग्नेंट महिला अस्पतालों के चक्कर काटती रही और आखिरकार ऑटो के अंदर ही उसकी मौत हो गई. किसी अस्पताल ने उस महिला को भर्ती नहीं किया. महाराष्ट्र सरकार से हम पहले भी इस संबंध में कई बार अपील कर चुके हैं लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ. मुंबई के लोगों को अस्पतालों में बेड तक नहीं मिल रहा है और लोग सड़क पर मर रहे हैं. यह पूरी तरह से प्रदेश सरकार की असफलता है.’

बीजेपी नेता ने इस घटना की एक वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया है. उन्होंने लिखा, ‘मुंब्रा में एक गर्भवती महिला बच्चे के जनम से पहले 2 घंटे तक एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल का चक्कर काटती रही औरत ने सड़क पर रिक्श में ही दम तोड़ दिया?

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

इस घटना को लेकर परिवारवालों ने तीनों अस्पताल के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. फिलहाल मुंबई पुलिस ने शिकायत दर्ज कर आगे की छानबीन जारी कर दी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment