Twitter Places Public Interest Notice On Donald Trump’s Tweet Said Its Glorifying Violence – डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट पर Twitter ने जारी किया सार्वजनिक नोटिस, लिखा- यह पोस्ट हिंसा को सपोर्ट करता है

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Fri, 29 May 2020 03:59 PM IST

ख़बर सुनें

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर के बीच फैक्ट चेक को लेकर शुरू हुई लड़ाई तेजी से आगे बढ़ रही है। ट्रंप ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को मिली कानूनी प्रोटेक्शंस खत्म करने वाले एक आदेश पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं। अब रेगुलेटर्स के पास फेसबुक, ट्विटर जैसे प्लेटफॉर्म्स के कंटेंट पर फैसलों को लेकर कानूनी कार्रवाई करने का अधिकार होगा।

वहीं ट्विटर ने डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट पर एक सार्वजनिक नोटिस जारी किया है जिसमें चेतावनी देते हुए कहा गया है कि यह पोस्ट हिंसा का महिमा मंडन करता है। ट्रंप का यह ट्वीट अमेरिका में होने वाले मिनियापोलिस विरोध को लेकर था जो जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद सामने आया था। 

ये भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप की फैक्ट चेकिंग करने पर मार्क जुकरबर्ग ने की ट्विटर की आलोचना

इससे पहले ट्रंप के एक ट्वीट पर ट्विटर ने फैक्ट चेक लगाते हुए कहा था कि यह ट्वीट भ्रामक है। ट्विटर ने सार्वजनिक नोटिस में कहा है कि ट्रंप का यह ट्वीट ट्विटर की पॉलिसी का उल्लंघन करता है, हालांकि ट्विटर ने ट्रंप के ट्वीट को डिलीट नहीं किया है, बल्कि हाइड कर दिया है जिसे यूजर्स देख सकते हैं। 
 

ट्विटर ने कहा है, ‘हमने दूसरों को हिंसक कृत्यों के लिए प्रेरित होने से रोकने के हित में यह कार्रवाई की है, लेकिन ट्विटर पर ट्वीट को बनाए रखा है क्योंकि यह महत्वपूर्ण है कि जनता अभी भी उस ट्वीट को देख सकें।’

ट्विटर ने ट्रंप के ट्वीट के उस वाक्य को हाईलाइट करते भी किया है जिसमें लिखा है, ‘कोई कठिनाई और हम नियंत्रण मान लेंगे लेकिन जब लूट शुरू होती है, तो शूटिंग शुरू होती है।’ ट्विटर का कहना है कि यह स्पष्ट रूप से चल रहे मिनियापोलिस विरोध को दर्शाता है।

बता दें कि अमेरिका के मिनियापोलिस में 46 वर्षीय अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयर्ड की पुलिस हिरासत में मौत हो गई है। इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को बर्खास्त भी किया गया है। ट्रंप ने इसी मौत को लेकर ट्वीट किया था जिसके बाद ट्विटर ने सार्वजनिक नोटिस जारी की।

सार

  • ट्रंप के ट्वीट पर ट्विटर ने कहा- हिंसा का महिमामंडन कर रहा यह पोस्ट
  • इससे पहले ट्रंप के ट्वीट का फैक्ट चेक कर चुका है ट्विटर
  • ट्रंप ने एक नए आदेश पर किए हस्ताक्षर

विस्तार

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर के बीच फैक्ट चेक को लेकर शुरू हुई लड़ाई तेजी से आगे बढ़ रही है। ट्रंप ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को मिली कानूनी प्रोटेक्शंस खत्म करने वाले एक आदेश पर हस्ताक्षर भी कर दिए हैं। अब रेगुलेटर्स के पास फेसबुक, ट्विटर जैसे प्लेटफॉर्म्स के कंटेंट पर फैसलों को लेकर कानूनी कार्रवाई करने का अधिकार होगा।

वहीं ट्विटर ने डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट पर एक सार्वजनिक नोटिस जारी किया है जिसमें चेतावनी देते हुए कहा गया है कि यह पोस्ट हिंसा का महिमा मंडन करता है। ट्रंप का यह ट्वीट अमेरिका में होने वाले मिनियापोलिस विरोध को लेकर था जो जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद सामने आया था। 

ये भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप की फैक्ट चेकिंग करने पर मार्क जुकरबर्ग ने की ट्विटर की आलोचना

इससे पहले ट्रंप के एक ट्वीट पर ट्विटर ने फैक्ट चेक लगाते हुए कहा था कि यह ट्वीट भ्रामक है। ट्विटर ने सार्वजनिक नोटिस में कहा है कि ट्रंप का यह ट्वीट ट्विटर की पॉलिसी का उल्लंघन करता है, हालांकि ट्विटर ने ट्रंप के ट्वीट को डिलीट नहीं किया है, बल्कि हाइड कर दिया है जिसे यूजर्स देख सकते हैं। 
 

ट्विटर ने कहा है, ‘हमने दूसरों को हिंसक कृत्यों के लिए प्रेरित होने से रोकने के हित में यह कार्रवाई की है, लेकिन ट्विटर पर ट्वीट को बनाए रखा है क्योंकि यह महत्वपूर्ण है कि जनता अभी भी उस ट्वीट को देख सकें।’

ट्विटर ने ट्रंप के ट्वीट के उस वाक्य को हाईलाइट करते भी किया है जिसमें लिखा है, ‘कोई कठिनाई और हम नियंत्रण मान लेंगे लेकिन जब लूट शुरू होती है, तो शूटिंग शुरू होती है।’ ट्विटर का कहना है कि यह स्पष्ट रूप से चल रहे मिनियापोलिस विरोध को दर्शाता है।

बता दें कि अमेरिका के मिनियापोलिस में 46 वर्षीय अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयर्ड की पुलिस हिरासत में मौत हो गई है। इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को बर्खास्त भी किया गया है। ट्रंप ने इसी मौत को लेकर ट्वीट किया था जिसके बाद ट्विटर ने सार्वजनिक नोटिस जारी की।



Source link

Related posts

Leave a Comment