e-एजेंडा में बोले योगी आदित्यनाथ- यूपी में आगे बढ़ा रहे हैं पीएम मोदी का वोकल फॉर लोकल का मंत्र – E agenda aaj tak 1 year narendra modi government 2 0 up cm yogi adityanath

  • मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे होने पर ई-एजेंडा कार्यक्रम का आयोजन
  • e-एजेंडा आजतक में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने लिया हिस्सा

मोदी सरकार 2.0 का एक साल पूरा हो चुका है. इस मौके पर आयोजित आजतक के खास कार्यक्रम e-एजेंडा में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी शिरकत की. योगी आदित्यनाथ ने ई-एजेंडा आजतक के ‘डबल इंजन सरकार…कितना असरदार’ सत्र में भाग लिया और अपनी राय रखी.

यूपी के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने मोदी सरकार की पहली सालगिरह पर कहा कि 135 करोड़ लोगों के हित में, भारत की एकता और अखंडता के हित में जो भी कड़े निर्णय लेने की आवश्यकता थी या है, वो केवल पीएम मोदी में है. यह विगत 6 सालों में मोदी सरकार ने कर के दिखाया है. पहले सरकार के पांच साल नए भारत के नींव को मजबूत करने में लगाया. आज जब दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष पूरा हो रहा है तो मैं प्रधानमंत्री जी और उनकी कैबिनेट का अभिनंदन करता हूं.

योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि पिछले एक साल में जो फैसले मोदी सरकार ने लिए वो भारत के हित में महत्वपूर्ण थे. ये कड़े और बड़े फैसले थे. ये 135 करोड़ लोगों के हितों वाले फैसले थे. इसीलिए हम चुनावों में कहते थे कि मोदी हैं तो मुमकिन है. मैं सभी कार्यकर्ताओं को भी धन्यवाद देता हूं.

यह भी पढ़ें: प्रियंका पर अखिलेश का वार- पंजाब और राजस्थान के छात्रों को क्यों नहीं मिली बस?

बतौर एक मुख्यमंत्री सरकार के कामकाज पर बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि किसी भी सत्ता के प्रमुख का दायित्व होता है कि वह समाज के प्रत्येक व्यक्ति के हितों को ध्यान में रखकर फैसला ले. प्रधानमंत्री मोदी का एक-एक निर्णय सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास पर आधारित रहे हैं. प्रारंभ से ही देखें जब 26 मई 2014 में उन्होंने शपथ ग्रहण तरते ही कहा था कि हमारी सरकार जाति, धर्म, और तबके को ध्यान में रखकर नहीं बल्कि देश के प्रत्येक व्यक्ति को केंद्र में रखकर फैसला लेगी.

मोदी सरकार के कामकाज की तारीफ करते हुए यूपी के सीएम ने कहा कि पूरे कोरोना संकट के दौरान सरकार द्वारा लिए गए फैसले का परिणाम ही रहा है कि काफी हद तक कोरोना फैलने से रोका गया. कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा भी कम रहा. जो निर्णय 2014 से लगातार लिए गए आज वह जमीन पर दिखाई देते हैं जब 80 करोड़ लोगों को डीबीटी के माध्यम से सरकार की योजनाओं का लाभ दिया जाता है. चाहे वह वन नेशन वन राशन कार्ड की व्यवस्था को पूरे देश में लागू किया गया.

यह भी पढ़ें: अखिलेश 2022 में शिवपाल को देंगे वॉकओवर, जसवंतनगर सीट पर सपा नहीं लड़ेगी चुनाव

कई योजनाओं से लोगों को मिले लाभ के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि जन धन अकाउंट में 20 करोड़ लोगों के खाते में तीन बार 500-500 रुपये जा चुके हैं. उज्जवला योजना के लाभार्थी 8 करोड़ गरीबों को पैसा पहुंचा है. हर एक के पास अपना आवास है. किसानों के खाते में दो-दो हजार रुपये पहुंचाए गए. अयोध्या में मंदिर निर्माण के मार्ग पर कांग्रेस राजनीतिक रोटियां सेंक रही थी, वो न्यायालय से निर्णय नहीं आना देना चाहते थे. आज उस पर निर्णय आ चुका है क्योंकि केंद्र में मोदी सरकार है. भारत को एक नए भारत की ओर ले जा रहे हैं.

पांच ट्रिलियन की इकोनॉमी पर भी योगी आदित्यनाथ ने बात की. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने कहा था जान भी और जहान भी आज हर राज्य उसी हिसाब से फैसले ले रहा है. मेरा मानना है कि हम लोग इन स्थितियों से उभरेंगे. भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का जो प्रधानमंत्री मोदी का संकल्प है वह संकल्प पूरा होगा, इसमें कोई संदेह नहीं, समय से पूरा होगा. यूपी सरकार निश्चित रूप से उनके साथ खड़ी है.

पीएम मोदी के लोकल को वोकल करने वाले मंत्र पर बात करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पीएम मोदी ने जब 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की घोषणा की तो उन्होंने स्वदेशी को स्वालंबन से जोड़कर आत्मनिर्भर भारत का एक मंत्र रखा. लोकल को वोकल और लोकल को ग्लोबल बनाने का जा उनका मंत्र है उसी पर हमने काम करना प्रारंभ किया. यूपी में एमएसएमई सेक्टर का बड़ा हिस्सा है. हम पीएम मोदी के मार्गदर्शन में काम कर रहे हैं. आज उत्तर प्रदेश एमएसएमई सेक्टर से ही एक लाख 16 हजार करोड़ रुपये का एक्सपोर्ट कर रहा है. ये एक उपल्बधि उत्तर प्रदेश के लिए है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment