लॉकडाउन: उत्तरकाशी में फंसे इंग्लैंड के माइकल, काट रहे बच्चों के बाल, बन गए किसान – Uttarkashi foreigner stuck during lockdown became part of village tstn

  • इंग्लैंड निवासी माइकल 28 जनवरी को आए थे भारत
  • पहाड़ी जीवन शैली का आनंद ले रहे माइकल

कोरोना वायरस महामारी में लगाए गए लॉकडाउन में जो जहां था वो वहीं फंस गया. इसी लॉकडाउन के दौरान उत्तरकाशी में एक विदेशी युवक फंस गया. वह इंग्लैंड के रहने वाले हैं. जिनका नाम माइकल है. वहीं, लॉकडाउन के दौरान फंसे इंग्लैंड निवासी माइकल पहाड़ी जीवन शैली का बखूबी आनंद ले रहे हैं.

उन्होंने उत्तरकाशी की शांत वादियों में बीते दो महीने से बिंबलेश्वर मंदिर में योग अभ्यास के साथ-साथ गांव के बच्चों को पढ़ाने, बाल काटने सहित ग्रामीणों के साथ खेती के कार्य में भी हाथ बंटा रहे हैं. यहां बिताए गए इन सुंदर और यादगार क्षणों के लिए वह अपने आपको धन्य भी मान रहे हैं.

अमेरिका में पढ़ रहे हजारों चीनी छात्रों को बाहर निकालने की तैयारी

जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर की दूरी पर वरुणावत पर्वत के शीर्ष पर स्थित देवदार के पेड़ों के बीच बसा है संग्राली गांव और गांव के निकट ही बिंबलेश्वर महादेव का मंदिर स्थित है. इंग्लैंड निवासी माइकल एडवर्डस बीती 28 जनवरी को भारत घूमने आए थे और ऋषिकेश होते हुए मार्च के महीने में उत्तरकाशी आए थे. लेकिन कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन के कारण संग्राली गांव में स्थित बिंबलेश्वर मंदिर में ही फंस गए.

माइकल को यहां लंबा समय बिताने का जो अवसर मिला, उन्होंने उन अवसरों को जिंदादिली ढंग से जी रहे हैं. यहां उन्होंने लॉकडाउन में ग्रामीण बच्चों को पढ़ाने, बच्चों के बाल काटने तथा मंदिर के आसपास साफ सफाई कर स्वच्छता का भी सन्देश दिया तथा गांव में ग्रामीणों के साथ पहाड़ी जीवनशैली के साथ जीवन जीने में रम गए हैं.

चीन के साथ तनाव के बीच वायुसेना का चिनूक हेलिकॉप्टर असम में तैनात

माइकल कहते हैं कि पहाड़ की शांत और सुंदर वादियों में जीवन जीने का अपना अलग ही आनंद है. यहां स्वच्छ प्राकृतिक वातावरण स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक है. उन्हें इन शांत वादियों में जो समय बिताने का अवसर मिला है. वह उन्हें हमेशा याद रहेगा. यह मेरे जीवन के महत्वपूर्ण और बेहतर क्षणों में शामिल है. उन्होंने कहा कि पहाड़ी लाइफ स्टाइल में ही जीवन जीने का असली आनंद है. वहीं, ग्रामीण भी माइकल से काफी प्रभावित और खुश हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment