कबीर सिंह देखकर बना फर्जी डॉक्टर, निजी तस्वीरों से महिलाओं को करता था ब्लैकमेल – Delhi police arrest blackmailer fake account on matrimonial site and dating app to trap girl demand photo

  • डेटिंग ऐप-मैट्रिमोनियल साइट पर बनाया था फर्जी अकाउंट
  • शादी का झांसा देकर मांगता था लड़कियों की निजी तस्वीरें

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने एक ऐसे शातिर जालसाज को गिरफ्तार किया है, जो पेशे से एक इवेंट कंपनी चलाता था, लेकिन इसी इवेंट कंपनी को चलाते-चलाते वो ब्लैकमेलर बन गया. पुलिस के हत्थे चढ़े इस आरोपी ने मॉडल बनने का सपना देखने वाले स्मार्ट लड़कों की तस्वीर अपलोड कर डेटिंग ऐप और मैट्रिमोनियल साइट पर अपना फर्जी अकाउंट बनाया, जिसमें उसने अपने आप को एक हड्डी का डॉक्टर बताया.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

पुलिस के मुताबिक, इन साइट पर खुद को डॉक्टर बताने का आइडिया उसके दिमाग में बॉलीवुड मूवी कबीर सिंह देखकर आया. पुलिस के मुताबिक, महिलाओं को शादी का झांसा देकर उनकी निजी तस्वीरें हासिल कर उन्हें ब्लैकमेल करता था. आरोपी के निशाने पर हाईप्रोफाइल लड़कियां और महिलाएं रहती थीं.

साथी समेत आरोपी गिरफ्तार

साइबर सेल की मानें तो आरोपी अबतक कई लड़कियों और महिलाओं की निजी तस्वीर और वीडियो के आधार पर उन्हें ब्लैकमेल कर चुका है. पुलिस ने आरोपी को उसके साथी समेत गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार आरोपियों में गाजियाबाद के 31 साल का आनंद कुमार और उसका 26 साल का दोस्त प्रियम यादव शमिल हैं.

महिला डॉक्टर ने की थी शिकायत

साइबर सेल के मुताबिक, एक महिला डॉक्टर ने यह शिकायत दी कि डेटिंग ऐप टिंडर से उनकी दोस्ती डॉ. रोहित गुजराल नाम के एक शख्स से हुई. उसने महिला से शादी करने की बात कर बातचीत शुरू की और नजदीकी बढ़ने पर मोबाइल पर भी संपर्क किया. नजदीकी बढ़ने के बाद आरोपी ने झांसा देकर उनकी कुछ निजी तस्वीरें और वीडियो भी मंगा लिए. तभी से आरोपी उसकी तस्वीरों को सार्वजनिक करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगा. उसने उससे तीस हजार रुपये भी ऐंठ लिए थे.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

बहरहाल, पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर आरोपी को तकनीकी सर्विलांस के जरिए लाजपत नगर मेट्रो स्टेशन के पास से दबोच लिया. फिर उसकी निशानदेही पर उसके साथी को भी गिरफ्तार कर लिया. आरोपी ठगी के रुपये अपने एक अन्य साथी के अकाउंट में ट्रांसफर करवाता था. बदले में उसका साथी उससे अपना कमीशन लेता था.

आरोपी से पूछताछ जारी

आरोपी जिस दोस्त द्वारा ब्लैकमेल करने की बात करता था वह खुद ही था. यदि कोई युवती या महिला संबंध बनाने के लिए राजी होती थी तो आरोपी खुद ही संबंध भी बना लेता था. कई महिलाओं ने पहले भी आरोपी के खिलाफ शिकायत की थी. फिलहाल पुलिस इनसे पूछताछ कर यह पता लगाने की कवायद कर रही है कि आखिरकार इन्होंने अब तक इस तरह से कितनी महिलाओं को ब्लैकमेल किया है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment