वीवीएस लक्ष्मण ने बताया- रोहित शर्मा कैसे बन गए IPL के सबसे सफल कप्तान – rohit sharma s ability to handle pressure made him most successful ipl captain vvs laxman tspo

वीवीएस लक्ष्मण ने कहा कि रोहित शर्मा का आईपीएल में कप्तान के तौर सफलता का सबसे बड़ा कारण दबाव की परिस्थितियों में भी शांत चित्त बने रहना है. मुंबई इंडियंस के 33 साल के कप्तान रोहित ने अब तक आईपीएल में चार खिताब जीते हैं, जो चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से एक खिताब अधिक है. इससे वह आईपीएल इतिहास के सबसे सफल कप्तान बन गए हैं.

45 साल के लक्ष्मण ने याद किया कि डेक्कन चार्जर्स की तरफ से पहले आईपीएल में खेलते हुए रोहित एक बल्लेबाज और नेतृत्वकर्ता के रूप में कैसे बेहतर बने. उन्होंने स्टार स्पोर्ट्स शो- ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ में कहा, ‘वह डेक्कन चार्जर्स की टीम में रहते हुए ही नेतृत्वकर्ता बन गए थे. जब वह पहले साल आए तो काफी युवा थे और तब वह टी20 विश्व कप में ही खेले थे. उन्हें भारत की तरफ से पदार्पण किए हुए ज्यादा समय नहीं हुआ था.’

rohit-sharma_766_052920013240.jpg

ये भी पढ़ें- टॉस किसने जीता- धोनी या संगा..? 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में हुआ था ये कन्फ्यूजन

लक्ष्मण ने कहा, ‘हमारी टीम आईपीएल के पहले सत्र में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी, लेकिन रोहित ने बेहतरीन खेल दिखाया था. उन्होंने जिस तरह से मध्यक्रम में दबाव में बल्लेबाजी की वह शानदार था.’ रोहित आईपीएल इतिहास में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे स्थान पर हैं. उन्होंने अब तक 188 मैचों में 31.60 की औसत से 4898 रन बनाए हैं, जिसमें उनका उच्चतम स्कोर नाबाद 109 रन है.

लक्ष्मण ने कहा, ‘प्रत्येक मैच और हर एक सफलता के बाद उनका आत्मविश्वास बढ़ता गया. उन्होंने कहा, ‘सबसे महत्वपूर्ण दबाव की परिस्थितियों से पार पाना था, क्योंकि इस तरह की मुश्किल परिस्थितियों में बल्लेबाजी करके उन्होंने साबित किया था और वह निरंतर बेहतर बनते रहे. यही वजह है कि वह आईपीएल इतिहास के सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment