दिल्ली में एक बार फिर गैंगवार ने दी दस्तक, 2 हत्याओं से दहला उत्तर पूर्वी जिला – crime north east delhi two murder on same day miscreants journalist death firing injured

  • जाफराबाद में युवक राशिद की गोली मारकर हत्या
  • मिरकार नाम के युवक पर भी हुआ जानलेवा हमला
  • भजनपुरा में गोलियों से भून हैदर नाम के युवक की हत्या

राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में एक बार फिर गैंगवार ने दस्तक दे दी है. बताया जा रहा है कि इसी के चलते एक के बाद एक तीन लोगों को अलग-अलग जगहों पर गोलियां मारी गई हैं. पहला मामला थाना जाफराबाद से है, जो मृतक राशिद नाम के बदमाश से जुड़ा है.

बताया जा रहा है कि मृतक राशिद ने 11 जनवरी 2019 को वेलकम कब्रिस्तान में अपनी बेटी की कब्र पर फातिहा पढ़ रहे महफूज नाम के बदमाश की हत्या को अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया था. इसके बाद राशिद जमानत पर जेल से बाहर चल रहा था. फिलहाल मृतक राशिद लूट के एक मामले में नाबालिग जेल में बंद था. अप्रैल के माह में राशिद बाल सुधार गृह से कुछ नाबालिगों के साथ फरार हो गया था और तब से ही पुलिस लगातार राशिद की तलाश कर रही थी.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

मृतक राशिद के परिजनों की मानें तो राशिद का मर्डर करने के बाद बदमाशों ने उस्मानपुर इलाके के एक पार्क में बैठे मिरकार नाम के लड़के पर फायरिंग की, जिसमें मिरकार गंभीर रूप से घायल हो गया. उसका जीटीबी अस्पताल में इलाज चल रहा है, जिसकी हालत नाजुक बताई जा रही है.

दोनों मामलों में तफ्तीश जारी

अभी पुलिस के आलाधिकारी इन दोनों मामलों की तफ्तीश ही कर रहे थे, तभी जिले के एक और इलाके से हत्या की सूचना मिलने से पुलिस के भी हाथ पैर फूल गए. तीसरा मामला थाना भजनपुरा इलाके के सुभाष मोहल्ला से था. बताया जा रहा है कि इस मामले में बाइक और स्कूटी पर सवार होकर आए पांच बदमाशों ने 30 साल के युवक हैदर को भी करीब दो दर्जन से अधिक गोलियां मारकर मौत के घाट उतार दिया.

इस मामले में बदमाशों ने हैदर की सिर में गोलियां बरसाईं, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. वहीं पुलिस सूत्रों के मुताबिक, हैदर पेशे से पत्रकार था. पुलिसिया सूत्रों का यह भी कहना है कि मृतक हैदर का उत्तर पूर्वी जिले में सक्रिय नासिर गैंग से करीबी संबंध था. बताया जा रहा है कि अकसर हैदर नासिर और नादिर की फैमिली के साथ भी देखा जाता था.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

जानकारी के मुताबिक, हैदर एक न्यूज पोर्टल चलता था और खुद को पत्रकार बताता था. मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच के लिए सभी अहम सबूतों को इकट्ठा कर लिया है. वही हैदर का परिवार कोई भी बात करने के लिए तैयार नहीं है.

ऐसे में पुलिस इस मामले को भी गैंगवार से जोड़कर देख रही है. अब पुलिस जिले में हुई इन तीनों वारदातों को आपस में जोड़कर भी देख रही है. फिलहाल पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है. वहीं घायल हुए लड़के का जीटीबी अस्पताल में इलाज चल रहा है और पुलिस के आलाधिकारी जांच में जुट गए हैं.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment