नोएडा: लुक्सर जेल में दो बंदियों के बीच हुई थी मारपीट, कैदी आरिफ की मौत – Up greater noida luksar jail fight between two inmates prisoner arif died

  • दो कैदियों के बीच 19 मई को हुई थी मारपीट
  • मारपीट में कैदी आरिफ को आई थी गंभीर चोट

ग्रेटर नोएडा के लुक्सर जिला जेल परिसर में 19 मई को दो कैदियों के बीच मारपीट हुई थी. एक हफ्ते पहले हुई इस मारपीट में एक कैदी आरिफ को गंभीर चोट आई थी. अब कैदी आरिफ की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गई.

जेल प्रशासन के मुताबिक, जेल के अंदर कैदी आरिफ की दूसरे कैदी अलाउद्दीन से मारपीट हुई थी. इस मारपीट में आरिफ ड्रेन में गिर गया था. आरिफ को पहले नोएडा के अस्पताल में इलाज करवाया गया. उसके बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज चला. सफदरजंग से डिस्चार्ज होने के बाद आरिफ फिर से जेल आ गया था, लेकिन आरिफ की गुरुवार दोपहर अचानक तबीयत खराब हुई, तब उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई. जेल प्रशासन इस मामले की जांच कर रहा है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

मृतक बंदी आरिफ गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में जेल आया था. वहीं, दूसरा कैदी अलाउद्दीन हत्या के मामले में जेल में बंद है. फिलहाल जेल प्रशासन की तरफ से ग्रेटर नोएडा के ईकोटेक-1 कोतवाली में मामला दर्ज कराया जा रहा है. वहीं मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.

धक्का-मुक्की में बंदी आरिफ को लगी चोट

जेलर सत्य प्रकाश ने बताया कि बिहार का रहने वाला अलाउद्दीन व सूरजपुर का रहने वाला आरिफ जेल के 3 नंबर आहते में रहते थे. दोनों के बीच दोस्ती भी थी. बीते 19 मई को दोनों के बीच हंसते-हंसाते किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया. दोनों के बीच धक्का-मुक्की में आरिफ को चोटें आईं, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल भेजा गया. वहां से उसे दिल्ली के सफदरंजग अस्पताल भेजा गया. जहां उसका ऑपरेशन होने के बाद ठीक होने पर उसे जेल भेज दिया गया.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

हालांकि, गुरुवार दोपहर बाद अचानक से उसका तापमान बढ़ने लगा. इसी दौरान उसे जेल से एंबुलेंस में आनन-फानन में जिला अस्पताल भेजा गया, जहां उसकी मौत हो गई.

बता दें कि सूरजपुर का रहने वाले मृतक आरफि को गैंगस्टर एक्ट में जेल भेजा गया था. इससे पहले भी वह जेल में रहकर जा चुका है. वहीं अलाउद्दीन बिहार का रहने वाला है और 302 के मुकदमे में जेल में बंद है. फिलहाल जेल प्रशासन की ओर से मुकदमा दर्ज कराने की कार्रवाई की जा रही है. वहीं आरिफ के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment