ट्रंप को भारत का जवाब- मध्यस्थता की जरूरत नहीं, शांति से मुद्दा सुलझाने को चीन से कर रहे बात – United states donald trummp mediate ladakh border dispute china india reaction

  • अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने की थी मध्यस्थता की पेशकश
  • भारत बोला- शांति से मुद्दे को सुलझाने के लिए हम चीन के संपर्क में

भारत-चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को मध्यस्थता की पेशकश की थी. अमेरिकी राष्ट्रपति की पेशकश पर अब भारत ने प्रतिक्रिया दी है. विदेश मंत्रालय ने कहा है कि किसी भी तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप की जरूरत नहीं है. शांति से मुद्दे को सुलझाने के लिए हम चीन के संपर्क में हैं.

डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि अमेरिका भारत और चीन के बीच सीमा विवाद के मुद्दे पर मध्यस्थता करने के लिए तैयार है. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हमने भारत और चीन दोनों को सूचित किया है अगर वो चाहें तो सीमा विवाद में अमेरिका मध्यस्थता करने को तैयार है. बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले साल भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव को कम करने के लिए भी मध्यस्थता की पेशकश की थी. तब भी भारत ने कहा था कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय मुद्दा है. इसमें किसी तीसरे पक्ष के दखल की जरूरत नहीं है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने नेपाल और चीन के साथ मौजूदा रिश्तों को लेकर भी बात की. उन्होंने प्रेस कॉन्प्रेंस में कहा कि भारत और नेपाल के गहरे संबंध हैं. कोरोना महामारी के दौरान भी हमने बिना लाइसेंस के व्यापार सुनिश्चित किया है. हम सीमा मुद्दे पर नेपाल में जो स्थिति है उसकी निगरानी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आपसी समझ और संवेदनशीलता को ध्यान में रखते भारत सभी पड़ोसियों के लिए हमेशा से खुला रहा है.

LAC पर चीन से गतिरोध पर उन्होंने कहा कि हमारे सैनिकों ने सीमा प्रबंधन के प्रति बहुत जिम्मेदार रुख अपनाया है. हमारे सैनिकों ने दोनों पक्षों द्वारा स्थापित प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया है. अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि हमारे सशस्त्र बल हमारे नेतृत्व द्वारा प्रदान किए गए मार्गदर्शन का ईमानदारी से पालन करते हैं. साथ ही हम अपनी संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment