कोरोना: मुंबई छोड़ हैदराबाद में टीवी शोज की शूटिंग करने की है प्लानिंग – Producers planning to shift shooting from mumbai to hyderabad ramoji film city due to corona lockdown tmove

हैदराबाद और जयपुर में अब टीवी सीरियल्स की शूटिंग शुरू हो सकती है . मुंबई में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते प्रोड्यूसर्स मुंबई से बाहर शूटिंग करने की सोच रहे हैं. हैदराबाद का रामोजी फिल्म सिटी मुंबई के सीरियल बनाने वालों के लिए एक विकल्प बनकर आया है.

हैदराबाद में पहले भी हो चुकी कई शोज की शूटिंग

हैदराबाद का ये स्टूडियो 1666 एकड़ तक फैला है. जहां पर शूटिंग के लिए तमाम चीजें उपलब्ध हैं. इससे पहले सिया के राम और मधुबाला जैसे सीरियल्स हैदराबाद के रामोजी फिल्म सिटी में शूट हो चुके हैं. मुश्किल है स्टेट गवर्नमेंट्स और यूनियन वालों की सहमति. तेलंगाना में कोरोना के मामले में महाराष्ट्र से बेहतर स्थिति है. ये विकल्प सभी प्रोड्यूसर्स को बेहतर लग रहा है. स्टार प्लस और कलर्स वाले अपने सीरियल्स के प्रोड्यूसर्स के साथ इस पर विचार कर रहे हैं.

सोशल डिस्टेंसिंग की प्रैक्टिस कर रहीं सनी लियोनी, मास्क लगाए शेयर की फोटो

वही जयपुर में जी स्टूडियोज में भी शूटिंग की सारी व्यस्वस्था है. जी टीवी अपने सीरियल्स की शूटिंग जयपुर में करने की तैयारी कर रहा है. जी टीवी अपने कई सीरियल्स जैसे हम पांच, राजा बेटा , अर्धांगिनी की शूटिंग जयपुर में कर चुका है. वहीं मुंबई में आईएफटीपीसी और एफडब्ल्यूआईसीई ने शूटिंग शुरू करने को लेकर बैठक आयोजित की. फिल्म कामगारों के लिए 25 सूत्रीय गाइडलाइन पर प्रोड्यूसर्स सहमत हैं. जल्द ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री इस पर फैसला लेंगे.

कोरोना को लेकर बनाई गई गाइडलाइन्स

फिल्म एन्ड टीवी प्रोड्यूसर्स काउन्सिल (टीवी एन्ड वेब विंग) आईएफटीपीसी और फेडरेशन ऑफ़ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्ल्यूआईसीई) ने बुधवार क एक वर्चुवल मीटिंग आयोजित कर फिल्म और टीवी सीरियल्स की शूटिंग फिर से शुरू किये जाने पर विचार विमर्श किया. बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन के कारण 17 मार्च 2020 से फिल्म और टीवी सीरियल्स की शूटिंग बंद है. इससे हजारों लोग बेरोजगार होकर बैठे हैं और राजस्व की क्षति हुई है. इसी के साथ एफडब्ल्यूआईसीई ने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता को लेकर एक 25 सूत्रीय गाइडलाइन अपने कामगारों के लिए तैयार की है.

मीटिंग में इन सभी मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई. प्रोडूसर्स इस गाइडलाइन के सभी मुद्दों पर सहमत हुए हैं. इसमें कामगारों के लिए 50 लाख के कोविड बीमा का भी समावेश है. प्रोड्यूसर्स बॉडी ने टेक्नीशियनों और कलाकारों के ओवरड्यू भुगतानों को देने के लिए एफडब्ल्यूआईसीई की मदद करने का भी वादा किया और कामगारों के पिछले बकाये का भुगतान करने का वादा किया है. आईएफटीपीसी ने एफडब्ल्यूआईसीई से डिफॉल्टरों की सूची जमा करने का अनुरोध किया.

6 महीने का हुआ तारक मेहता की रीटा रिपोर्टर का बेटा , एक्ट्रेस ने लिखा इमोशनल नोट

इस बैठक में फेडरेशन के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी ने कहा कि आईएफटीपीसी और एफडब्ल्यूआईसीई का उद्देश्य शूटिंग को फिर से शुरू कराना होगा. आईएफटीपीसी की ओर से बैठक में जेडी मजेठिया, श्यामाशीष भट्टाचार्य, अभिमन्यु सिंह , नितिन वैद्य और एफडब्ल्यूआईसीई की ओर से प्रेसिडेंट बीएन तिवारी, जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे, ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव और मुख्य सलाहकार अशोक पंडित मौजूद थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment