आप नेता सौरभ भारद्वाज ने गुजरात हाईकोर्ट के जज के तबादले पर उठाए सवाल – Aap saurabh bharadwaj tweet on gujarat high court judge transfer

  • सौरभ भारद्वाज ने बीजेपी सरकार पर बोला हमला
  • गुजरात हाईकोर्ट के जज के तबादले पर उठाए सवाल

चीन के वुहान शहर से पूरी दुनिया में फैले कोरोना वायरस ने भारत में भी काफी तबाही मचाई है. भारत के भी कुछ राज्यों में कोरोना का असर कुछ ज्यादा ही नजर आया है. गुजरात भी ऐसे ही राज्यों में है जहां कोरोना के मामले काफी ज्यादा रिपोर्ट हुए हैं. गुजरात में कोरोना से निपटने को लेकर हाईकोर्ट की एक टिप्पणी के बाद कई विपक्षी पार्टियों ने राज्य सरकार को घेरने की तमाम कोशिशें भी कीं. इसी क्रम में आप नेता और दिल्ली के ग्रेटर कैलाश से विधायक सौरभ भारद्वाज ने भी एक ट्वीट किया है.

सौरभ भारद्वाज ने अपने ट्वीट में लिखा है, “गुजरात की घटिया स्वास्थ्य व्यवस्था के बारे में कहा- हाईकोर्ट के जज साब बदल गए. कपिल मिश्रा पर एफआईआर के लिए कहा- हाईकोर्ट के जज साब बदल गए. जिसने राफेल पर क्लीन चिट दी- सुप्रीम कोर्ट के जज साब संसद में पहुंच गए. विश्व गुरु की राह पर अग्रसर.”

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

क्या था गुजरात का मामला

कोरोना के मरीजों के इलाज को लेकर राज्य सरकार और अहमदाबाद सिविल अस्पताल पर टिप्पणी करने के बाद हाईकोर्ट ने कहा था कि इस याचिका का सबसे परेशानी वाला मुद्दा रेजिडेंट डॉक्टर का पत्र है, जिसमें सिविल अस्पताल के बारे में सभी तरह की समस्याओं का हवाला दिया गया है. हालांकि, राज्य सरकार का कहना है कि रेजिडेंट डॉक्टर के पत्र में कोई तथ्य नहीं है. इसके बावजूद हाईकोर्ट का मानना है कि इस पत्र को पूरी तरह नजरंदाज नहीं करना चाहिए.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

राज्य सरकार की ओर से दलील दी गई कि हाईकोर्ट की ओर से की गई टिप्पणी से आम लोगों के दिमाग में सिविल अस्पताल को लेकर गलत बातें अंकित होंगी. हाई कोर्ट के मुताबिक रेजिडेंट डॉक्टर के पत्र के मुद्दों को लेकर राज्य सरकार को एक समिति गठित करनी चाहिए. यह समिति पूरी तरह निष्पक्ष हो जिसमें कोई भी सदस्य सरकारी अधिकारी नहीं हो और किसी भी रूप से सिविल अस्पताल से जुड़ा हुआ नहीं हो. हाई कोर्ट के इसी आदेश के बाद गुजरात सरकार ने चार डॉक्टरों की एक समिति बनाई है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android App
  • Aajtak Android IOS



Source link

Related posts

Leave a Comment